उन्नाव गैंगरेप मामले में CBI ने बीजेपी विधायक को तड़के धरधबोचा, जानिये क्या है पूरा मामला

गैंगरेप मामले में सीबीआई ने आरोपी बीजेपी विधायक को गिरफ्तार कर लिया है। जी हां, तड़के सुबह बीजेपी विधायक को अरेस्ट कर लिया गया है। इससे पीड़ित परिवार से लेकर देशभर में खुशी का माहौल है, लेकिन अब सिर्फ इस बात का इंतजार है कि पीड़िता को जल्दी से जल्दी इंसाफ मिले। इंसाफ मिलने में लगातार देर हो रही है, ऐसे में यह केस अब हाई प्रोफाइल का बनता जा रहा है। कोर्ट के फटकार के बाद आरोपी विधायक पर केस दर्ज किया गया था, इसके बाद अब तड़के सुबह सीबीआई ने उसे अरेस्ट कर लिया, जोकि इस केस में अब तक बड़ा मोड़ माना जा रहा है। आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

शुक्रवार की सुबह सीबीआई ने आरोपी विधायक कुलदीप को गिरफ्तार कर लिया, जिसके बाद से इस पर बड़ी राजनीति की  जा रही है। सवाल यह है कि आरोपी विधायक की गिरफ्तारी में इतना समय क्यों लगाया गया, क्या आरोपी को सरकार बचा रही थी? क्योंकि सरकार जिस तरह से दलीलें पेश कर रही है,उससे तो यही साफ होता है कि सरकार पूरी कोशिश कर रही थी कि आरोप विधायक को गिरफ्तारी से बचाया जाए, लेकिन पीड़ित परिवार ने इसकी जांच के लिए सीबीआई की मांग की, जिसके बाद अब मामला कुछ सुझलता हुआ दिखाई दे रहा है।

बताते चलें कि आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर को सीबीआई ने सुबह 4.30 बजे उनके घर से गिरफ्तार किया, जिसके बाद से विधायक से पूछताछ जारी है, ऐसे में संभावना यह जताई जा रही है कि आरोपी विधायक को जल्दी ही कोर्ट में पेश किया जा सकता है। हालांकि, अगर कोर्ट में आज विधायक को पेश नहीं किया तो यह कार्रवाई सोमवार को हो सकती है, क्योंकि कल और परसों अवकाश है, ऐसे में विधायक कोर्ट में सोमवार को पेश हो सकता है। बता दें कि पीड़ित परिवार का कहना है कि उन्हें अब सरकार पर किसी भी तरह का कोई भरोसा नहीं रहा है।

आरोपी विधायक पर आईपीसी की धारा 363, 366, 376 और पॉक्सो कानून की विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है, जिसके बाद सीबीआई ने गिरफ्तार करके पूछताछ कर रही है। बता दें कि पीड़िता की बहन का कहना है कि विधायक को फांसी होनी चाहिए, क्योंकि ये मामला अब रेप का नहीं बल्कि हत्या का भी बन गया है, ऐसे में अब इस मामले में कार्रवाई करते हुए कड़ी सजा दिलानी चाहिए। हालांकि, अब ये देखना होगा कि सीबीआई की जांच इस मामले को किस मोड़ पर लेकर मुड़ती है, ये तो खैर वक्त ही बताएगा।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *