उन्नाव मामले में बोली पीड़िता ‘राक्षस हैं बीजेपी विधायक कुलदीप’

उन्नाव मामला दिन ब दिन बढ़ता ही जा रहा है। जहां एक तरफ पीड़िता मामले में तेजी से इंसाफ चाहती है, तो वहीं दूसरी तरफ सरकार उसे सिर्फ दिलासा ही दिला रही है। मामला अब सीबीआई के हाथों में है, ऐसे में अब मामले में तेजी देखने को मिल रही है। बता दें कि पीड़िता का मेडिकल टेस्ट कराया जाएकगा, जिसके लिए वो लखनऊ जा चुकी है। इस दौरान पीड़िता ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कुलदीप सेंगर एक राक्षस है, उन्हें फांसी होनी चाहिए। चलिए जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

गैंगरेप की पीड़िता ने अब बड़ा बयान दिया है। जी हां,पीडिता ने कहा कि उसके चाचा उसे दादा बुलाते थे, लेकिन फिर भी कुलदीप ने मेरे साथ राक्षसों से जैसा व्यवहार किया, ऐसे में अब उन्हें फांसी होनी चाहिए। बता दें कि पीड़िता ने कहा कि जपब तक वो फांसी के फंदे पर लटक नहीं जाते हैं, तब तक उसे इंसाफ नहीं मिलेगा। बता दें कि अब यह केस हाईप्रोफाइल का बन गया है, जिसकी वजह से इसमें किसी भी प्रकार की कोई गलती की गुजाइंश नहीं छोड़ी जाएगी। पीड़िता ने अपने पिता को भी इंसाफ की लड़ाई में खो दिया है।

बताते चलें कि पुलिस कस्टडी में मौजूद पीड़िता की पिता की मौत हो जाती है, जिसका आरोप पीड़िता बीजेपी विधायक पर लगा रही है। पीडिता ने कहा कि उसने रेप करते समय बोला था कि अगर किसी को बताएगी तो तेरे घरवालों का मार दूंगा और अब उसने मेरे पिता को मार दिया है, ऐसे में अब उसे सिर्फ औऱ सिर्फ फांसी की सजा मिले। पीड़िता के पिता के बॉडी में 14 निशान पाएं गये हैं, जोकि हत्या के तरफ इशारा कर रहे हैं, ऐसे में अब सीबीआई इस केस की जांच नये सिरे कर रही है।

मामले में अभी तक सीबीआई ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, जिसके बाद पूछताछ जारी है। ऐसे में अब पीड़िता की मेडकिल रिपोर्ट आने के बाद सीबीआई आरोपी विधायक को कोर्ट में पेश कर सकती है, जिसके बाद इस मामले में नया मोड़ क्या आएगा, इसका पता चल सकेगा। पीड़िता का मेडिकल टेस्ट लखनऊ में किया जाएगा, जहां उसे काफी सुरक्षा मिली हुई है, ताकि किसी भी तरह की उसके साथ कोई भी घटना घटित हो। मामले में योगी सरकार ने भी कहा है कि अपराधियों को नहीं बख्शा जाएगा, तो वहीं दूसरी तरफ पीएम मोदी ने भी देशवासियों को भरोसा दिलाया है कि कड़ी से कड़ी कार्रवाई होगी।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *