0

पीएम मोदी से मुलाकात करेंगे नीतीश कुमार, बिहार को मिल सकता है बड़ा तौहफा

बिहार को विशेष दर्जा दिलाने की मांग एक बार फिर तेज हो चुकी है। इसी सिलसिले में पीएम मोदी से बिहार के सीएम नीतीश कुमार मुलाकात करेंगे। पीएम मोदी ने चुनावी माहौल में वादा किया था कि अगर बीजेपी की सरकार बनती है तो बिहार को विशेष दर्जा मिलेगा।  इसके अलावा बिहार को विशेष पैकेज का भी वादा किया गया था, लेकिन चुनाव के इतने सालों बाद भी बिहार को न तो दर्जा मिला है और नहीं कोई पैकेज, जिसकी वजह से विपक्ष नीतीश सरकार को आड़े हाथों लेती है। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

राजद से गठबंधन तोड़ने के बाद नीतीश कुमार ने बीजेपी के साथ मिलकर सरकार बनाई, जिसकी वजह से अब राजद नीतीश पर बिहार को विशेष दर्जा दिलाने का दबाव डालती है। तेजस्वी यादव हर वक्त नीतीश कुमार पर यह आरोप लगाते हैं कि वो बीजेपी से विशेष राज्य का दर्जा दिलवाने की मांग करते हुए डरते हैं, ऐसे में बिहार की जनता के साथ नीतीश और बीजेपी धोखा कर रही है। इसी सिलसिले में अब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पीएम मोदी से मुलाकात करेंगे, जिस दौरान बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलवाने की बात भी होगी।

पीएम मोदी से मुलाकात करेंगे नीतीश कुमार

नीताश और पीएम मोदी के मुलाकात से पहले ही कांग्रेस ने इस मीटिंग को फ्लॉप बता रही है। कांग्रेस ने कहा कि इस मीटिंग में बिहार के विशेष राज्य का दर्जा दिलवाने की बात ही नहीं होगी। इसके अलावा बीजेपी और जदयू की दोस्ती को लेकर भी कांग्रेस ने बड़ा आरोप लगाया है। कांग्रेस ने कहा कि नीतीश ने बीजेपी के साथ मिलकर बिहार को सांप्रदायिक बना दिया, जिसका खामियाजा सिर्फ जनता को भुगतना पड़ रहा है। ऐसे में बिहार के लिए इस बैठक में भी नीतीश पीएम मोदी से विशेष दर्जा की बात नहीं कर सकेंगे।

आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने को लेकर केंद्र सरकार ने अपना रूख साफ कर दिया है, ऐसे  में अगर बिहार को विशेष दर्जा दिया जाएगा तो आंध्र की जनता बीजेपी से खफा हो जाएगी। इसका खामियाजा बीजेपी को आगामी चुनाव में भी भुगतना पड़ सकता है, ऐसे में अब बीजेपी को एक एक कदम फूंक फूंक के रखना पड़ेगा, जिसकी वजह से बिहार को विशेष दर्जा शायद ही बीजेपी अभी दे सकेगी, वरना 2019 में कई और राज्यों से बीजेपी को काफी नकुसान झेलना पड़ सकता है। बता दें कि पीएम मोदी से नीतीश कुमार 2 मई को मुलाकात करेंगे, जिसकी वजह से सबकी निगाहें इस मीटिंग पर टिकी होंगी।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *