0

प्रकाश जावेड़कर का वार ‘राहुल गांधी जनता को अब मूर्ख नहीं बना सकते’

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपने अमेठी दौरे पर एक बयान को लेकर घिरते हुए नजर आ रहे हैं। जी हां, राहुल गांँधी  ने अमेठी में जनता से बात करते हुए बड़ी बड़ी बाते कि तो बीजेपी अब हमलावर होती हुई नजर आ रही है। राहुल गांधी के बयान को लेकर बीजेपी कांग्रेस को चौ-तरफा घेरती हुई नजर आ रही है, ऐसे में अब एक बार फिर से सियासत अपने चरम पर है। बीजेपी के बड़े बड़े नेता राहुल गांधी पर वार करते हुए नहीं थक रहे हैं, इसकी शुरूआत राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने की। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

अमेठी में राहुल गांधी ने कहा था कि उन्हें संसद में बोलने नहीं दिया जाता है। साथ ही इसके बाद उन्होंने इस बात को संविधान बचाओ रैली के दौरान भी दोहराया, जिसको लेकर एक बार फिर से इस मसले पर सियासत शुरू हो चुकी है। बता दें कि शिक्षा मंत्री प्रकाश जावेड़कर ने राहुल पर निशाना साधते हुए कहा कि राहुल संसद में न बोलने दिये जाने की बात को लेकर अब जनता को मूर्ख नहीं बना सकते हैं। जी हां, प्रकाश ने आगे कहा कि राहुल संसद में बोलना चाहते हैं, लेकिन दुर्भाग्य उनकी ही पार्टी उन्हें बोलने नहीं दे रही है, इससे बड़ा राहुल के लिए क्या दुर्भाग्य हो सकता है।

संविधान की सुरक्षा पर भी कांग्रेस पर वार करते हुए प्रकाश ने कहा कि आज कांग्रेस संविधान की सुरक्षा की बात कह रही है लेकिन 1975 में उसने आपातकाल लगाकर और प्रेस की स्वतंत्रता का गला घोंटकर इस पर आघात करने का काम किया, लेकिन अब ये संविधान बचाओ की बात कर रहे हैं, बल्कि बार बार खुदने संविधान का गला घोटा था, जिसे देश की जनता अब कतई भूल नहीं सकती है, यही वजह है कि आज कांग्रेस पूरी तरह से लडखड़ा गई है।

प्रकाश से पहले केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने राहुल को लेकर विवादित बयान दिया था। चौबे ने कहा था कि राहुल गांधी गूंगे हैं, ऐसे में एक गूंगा पीएम मोदी जोकि देश की बागडोर संभाल रहे हैं, उन्हें हिला भी नहीं सकते हैं, सत्ता से बाहर फेंकेने की बात ही दूर की है। तो वहीं संबित पात्रा ने कहा कि राहुल गांधी मोबाइल में देखें बिना एक मिनट भी नहीं बोल सकते हैं, और वो15 मिनट संसद में क्या बोलेंगे? साथ ही संबित ने कहा कि कांंग्रेसियोंं ने देश को बांटा है और आज संविधान बचाओ की बात करते हैं।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *