0

सोनम की शादी होते ही श्रीदेवी वाले हादसे पर आया दुबई से ऐसा लेटर, शॉक में है कपूर फैमिली

श्रीदेवी के स्वर्गवास के इतने दिनों बाद भी सवालों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा. हाल ही में नई दिल्ली की एक जांच एजेंसी ने श्रीदेवी की स्वर्गवास को महज एक हादसा मानने से इंकार कर दिया है. उनकी मानें तो श्रीदेवी को एक सोची समझी साजिश के तहत ख़त्म किया गया है. इसके अलावा, फिल्म मेकर सुनील ने भी सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी कि जांच दोबारा होनी चाहिए. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने सुनील की इस याचिका को शुक्रवार को खारिज कर दिया. बता दें कि 24 फरवरी को दुबई के एक होटल में श्रीदेवी श्रीदेवी की जान चली गयी थी

इस याचिका को दुबई पुलिस द्वारा दिए गए लेटर के बाद ही ख़ारिज कर दिया गया. कोर्ट ने कहा कि इस मामले की जांच हो चुकी है अब इसकी दोबारा जांच नहीं होगी. सुनील ने आरोप लगाये थे कि संदिग्ध परिस्थितियों में श्रीदेवी की स्वर्गवास हुई है और इसी वजह से उन्होंने यह याचिका दायर की थी. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि इस मामले की जांच भारत और दुबई पुलिस के अफसर पहले ही कर चुके हैं. इसलिए इस मामले की दोबारा जांच करने का कोई मतलब नहीं बनता. बता दें अदालत ने इससे पहले भी श्रीदेवी हादसे से जुड़ी दो याचिकाओं को खारिज किया है.

सुनील ने साल 2017 में फिल्म ‘गेम ऑफ अयोध्या’ का निर्देशन किया था. जिसके बाद याचिका लगाकर वह सुर्खियों में आये थे. बता दें सुनील डायरेक्टर होने के साथ एक एक्टर भी हैं. मार्च महीने में सुनील ने हाईकोर्ट से श्रीदेवी का मुद्दा उठाते हुए याचिका दायर की थी. उनकी इस याचिका को हाईकोर्ट ने निरस्त कर दिया था. इसके बाद उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने भी निरस्त कर दिया. सुनील के अनुसार श्रीदेवी अपने आखिरी वक़्त में दुबई में थे. सुनील ने दावा किया कि होटल स्टाफ से उन्हें जो जानकारी मिली है वह मीडिया में दिए गए परिवार के बयान से बिलकुल अलग है. इसलिए उन्होंने ये याचिका शक के आधार पर दायर की थी. उन्होंने कहा कि श्रीदेवी की जान रहस्यमय हालातों में गयी है है और वह कोई छोटी-मोटी हीरोइन नहीं बल्कि पद्मश्री से सम्मानित अभिनेत्री हैं. इसलिए इस केस की जांच दोबारा होनी चाहिए और इसके लिए उन्होंने ऑनलाइन पीटिशन कैम्पेन भी चलाया था.

बता दें कि श्रीदेवी दुबई अपने परिवार के साथ एक पारिवारिक समारोह में शामिल होने गई थीं. 20 फरवरी को बोनी कपूर के भांजे मोहित मारवाह की शादी थी. शादी खत्म होने के बाद जहां पूरा परिवार वापस मुंबई आ गया वहीं श्रीदेवी ने दुबई में कुछ दिन और रुकने का प्लान किया. बोनी कपूर वापस श्रीदेवी को सरप्राइज देने दुबई पहुंचे. दुबई पहुंच कर वह श्रीदेवी के कमरे में गए और उन्हें सरप्राइज दिया. उन्होंने श्रीदेवी को डिनर के लिए तैयार होने के लिए कहा. श्रीदेवी बाथरूम में तैयार होने गईं और करीब 15 मिनट तक बाहर नहीं आयीं. दरवाज़ा तोड़ने पर पता चला कि श्रीदेवी अंदर अचेत अवस्था में बाथटब में गिरी हैं. आनन-फानन में उन्हें अस्पताल ले जाया गया. हॉस्पिटल ले जाने पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. पोस्टमॉर्टम में आया कि जब श्री देवी की जान गयी वह नशे की हालत में थीं और बाथटब में डूबने की वजह से यह घटना घटी है.

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *