IIT के स्टूडेंट ने की खुदखुशी, सुसाइड नोट से सामने आई हैरान कर देने वाली वजह

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में एक बार फिर से सनसनी मच गया। जी हां, आईआईटी में पढ़ने वाले एक युवक ने आत्महत्या कर ली। सुसाइड की वजह जानकर पुलिस के पैरों तले भी जमीन खिसक गई। बता दें कि युवक कोलकाता का रहने वाला है, ऐसे में वो पढ़ाई करने दिल्ली आया था, जिसके बाद अब उसने सुसाइड कर ली। सुसाइड की वजह से सबको झकझोंर के रख दिया है। पुलिस ने इस मामले को लेकर कई बड़े खुलासे किये हैं। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

आईआईटी में पढ़ने वाला युवक कई सालों से  परेशान था। अंतत उसने एक ऐसा कदम उठाया, जिसकी वजह से लोगों की आंखें नम हो गई। अब आप सोच रहे होंगे कि युवक ने सुसाइड क्यों किया तो आपको बता दें कि इसके पीछे की वजह उसकी पढ़ाई नहीं बल्कि उसका माहौल था, वो अपनी जिंदगी से हार गया था, इतने नामगामी संस्थान में पढ़ने वाला बच्चा ऐसी हरकतें करे तो वाकई लोगों के दिल पसीज जाते हैं। सुसाइड की खबर मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची तो उसे बेड पर एक सुसाइड नोट मिला, जिसमें आत्महत्या की वजह बताई गई है।

जी हां, सुसाइड में छात्र ने अपने मरने की वजह लिखी है। सुसाइड नोट में लिखा है कि मेरे साथ बचपन से ही यौन शोषण हो रहा था, जिसकी वजह से वो पूरी तरह से परेशान हो चुका था। बता दें कि अक्सर आपने लड़कियों के साथ होने वाले दुष्कर्म की खबरेंं पढ़ी होंगी, लेकिन लड़कों को भी ये सब झेलना पड़ता है, ये सुनकर आपको आश्चर्य जरूर होगा, लेकिन इस सुसाइड में यही लिखा है कि उसके साथ यौन शोषण हुआ है। पुलिस सुसाइड नोट के आधार पर जांच पड़ताल कर रही है। साथ ही पुलिस ने यह भी कहा कि यह छात्र बंगाल का है, तो उसके बंगाल में ही यह सब हुआ है, जिसकी वजह बंगाल पुलिस भी अब इस मामले में तब्दीश करेगी।

मृतक के परिवार वालों ने बताया कि वो पहले भी सुसाइड कर चुका था, लेकिन तब वो बच गया था, ऐसे में उसने एक बार फिर से सुसाइड कर लिया। बता दें कि परिवार वालों का कहना है कि उसने बीते 10 अप्रैल को कुछ गोलियां खा ली थी, जिसके बाद उसे हास्पिटल ले जाया गया था, वहां उसकी जान बच गई, पर अब उसने फांसी लगा ली। पुलिस फिलहाल इस मामले में हर एंगल से जांच कर रही है, ताकि केस पूरी तरह से साफ हो सके। फिलहाल, सुसाइड नोट को फारेसिंक जांच के लिए भेज दिया गया।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *